in

शानदार बैंकिंग करियर छोड़ अपने स्टार्टअप से 16 से ज्यादा देशों में पहुँच बनाने वाली युवा उद्यमी

खुशहाल बचपन, एक शानदार करियर, और अपने प्रियजनों के साथ गुणवत्तापूर्ण जीवन ऐसी चीजें हैं जो किसी के जीवन में खुशियों को बढ़ा सकती है, लेकिन इसी दुनिया में रहने वाले अन्य लोगों की समस्याओं का क्या? क्या हमारे लिए वास्तव में खुशहाल जीवन जीना संभव है जब हमारे आसपास वंचित लोगों की भरपूर मात्रा हो? स्वयं के लिए एक निपुण जीवन हासिल करने के बाद समाज के लिए कुछ प्रभावशाली करने का अहसास लोगों को सामाजिक उद्यमिता के लिए प्रेरित कर रहा है। हमारी आज की कहानी एक ऐसी ही युवा उद्यमी के इर्दगिर्द घूम रही है।

भारत की सांस्कृतिक राजधानी – वाराणसी से ताल्लुक रखने वाली छवी सिंह ने लगभग एक दशक तक यूबीएस, मॉर्गन स्टेनली जैसे निवेश बैंकों के साथ काम किया। अपने परिवार के साथ संयुक्त राज्य अमेरिका में बसने के बाद, उनके भीतर उद्यमी बनने का सपना जागा और उन्होंने अपना खुद का व्यवसाय शुरू करने का फैसला किया। कई अन्य लोगों के विपरीत, कुछ प्रभावशाली करना उनके लिए प्राथमिकता थी, न कि लाभ कमाना। अनगिनत विचारों में से छवि ने एक सार्थक विचार को चुना और उसे धरातल पर लाने की दिशा में काम शुरू कर दिया। छवी ने दुनिया भर में महिला कलाकारों को मदद करने का क्रांतिकारी फैसला लिया।

छवी के बड़े बहुराष्ट्रीय निगमों के साथ काम करने के पिछले अनुभव ने उन्हें सबसे अच्छा व्यवसाय विचार खोजने में मदद की। शोध के दौरान उन्होंने पाया कि प्रतिभा के बावजूद खुद को स्थापित करने के लिए महिला कलाकारों को कई कठिनाइयों का सामना करना होता है। छवी ने पाया कि पेशेवर महिला कलाकारों की संख्या बहुत कम (कुल का 45%) है जबकि आर्ट्स कॉलेजों में नामांकन महिलाओं का अनुपात (कुल का 75%) है। और तो और शीर्ष 25 की सूची में महिला कलाकारों का कोई नामोनिशान नहीं है। इन आंकड़ों ने छवी को अपने स्टार्टअप के ज़रिए दुनिया भर में महिला कलाकारों के लिए एक तकनीकी प्रेमी, डिजिटल प्लेटफॉर्म बनाकर अंतर्निहित समस्या पर काम करने के लिए प्रेरित किया।

वर्ष 2018 में, छवी ने संयुक्त राज्य अमेरिका से अपना मंच, डेलीडिजिनिस्ट को लांच किया। पिछले दो वर्षों में, उन्होंने 16 से अधिक देशों की 400+ महिला कलाकार को जोड़ा है। उनके कलाकारों में घर पर रहने वाली माताओं से लेकर कामकाजी महिलाएं शामिल हैं जो स्टार्टअप द्वारा प्रदान किये गए प्लेटफॉर्म पर अपने कामों का प्रदर्शन करती हैं। स्टार्टअप के लिए एक और महत्वपूर्ण व्यवसायिक रणनीति बच्चों (4 साल से ऊपर) और वयस्कों के लिए अपनी अनूठी ऑनलाइन शिक्षण पेशकश है, जो महिला कलाकारों को बच्चों को कला/भारतीय लोक कला सिखाने के लिए एक और राजस्व का विकल्प उपलब्ध कराती है। स्टार्टअप ने आईओएस और एंड्रॉइड डिवाइसों के लिए अपने मुफ्त मोबाइल ऐप (कला प्रेमियों के लिए) लॉन्च किए हैं, जिससे उनकी सेवाओं और उत्पादों को सिर्फ एक क्लिक पर देखा जा सकता है।

केनफ़ोलिओज़ के साथ बातचीत में, छवी ने अपनी भविष्य की योजनाओं के बारे में चर्चा की। साल 2021 में – उनका स्टार्टअप एक और उत्पाद लाइन लॉन्च कर रहा है, जिसे “आर्ट वियरेबल” कहा जाता है। इसके बैनर तले पोशाक, उपकरण और आभूषण पर लोक कलाओं का स्पर्श होगा। वे हेरिटेज वियर होंगे और उस पर चित्रित भारतीय लोक कलाओं के साथ कालातीत खजाने होंगे।

एक खुशहाल जीवन व्यतीत करने के बजाय, अपने सामाजिक स्टार्टअप के माध्यम से महिला कलाकारों के लिए काम करने का छवी का निर्णय सामाजिक विकास का सूचक है। इस नए चलन के सामने आने से लोगों को खुद के लिए निपुण होने के बावजूद हमारे आसपास दूसरों की खुशी के लिए काम करने के लिए प्रेरित करने से अंततः इस दुनिया को एक खुशहाल जगह मिल जाएगी और, छवी सिंह जैसे लोग इस मुहिम के असली हीरो होंगे।

कहानी पर आप अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं और पोस्ट अच्छी लगी तो शेयर अवश्य करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *