in

अवश्य पढ़ें: सफलता के 9 सूत्र जिन्हें दिग्गज उद्योगपति जैक मा अपनी सफलता यात्रा में आज़मा चुके हैं

उन्होंने अपने बिज़नेस की शुरुआत पत्नी और एक दोस्त से उधार लिए $20000 से शुरू किया। वह पहले चाइनीज़ एंटरप्रेन्योर हैं जो फोर्ब्स मैगज़ीन के कवर पर आए। आज वह चाइना के सबसे अमीर व्यक्ति बन चुके हैं और वैश्विक पटल पर 20वें सबसे अमीर व्यक्ति हैं। उनके साम्राज्य की कीमत 29.7 बिलियन डॉलर आंकी गई है। अलीबाबा डॉट कॉम के फाउंडर जैक मा आज दुनिया भर में किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं।

55 वर्षीय जैक मा का जन्म ईस्टर्न चाइना के एक ग़रीब परिवार में हुआ था। उन्होंने अपनी जिंदगी में बहुत सारी असफलताएं झेलीं। सबसे पहले वे कॉलेज के एंट्रेंस एग्जाम में पास नहीं हुए थे। जैक मा अपने कॉलेज के एग्जाम में तीन बार फेल हुए। चीन की कई कंपनियों ने उन्हें अयोग्य कहकर नौकरी नहीं दी और यहां तक की KFC आउटलेट में भी उन्हें नौकरी नहीं मिली।

किशोरावस्था में जैक इंग्लिश सीखना चाहते थे परंतु आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने की वजह से उन्होंने सीखने का अलग ही तरीका अपनाया। वे पर्यटकों  को अपनी साइकिल में बिठाकर उनसे कुछ इंग्लिश के लेसन सीखने लगे। आज वह एक बिजनेस मैग्नेट, इन्वेस्टर, लोक हितैषी, विश्व के अमीर व्यक्तियों में से एक, दिग्गज उद्योगपति और दुनिया के सबसे लोकप्रिय सीईओ हैं।

आज हम जैक मा के सफलता के 9 सूत्र जानेंगे जिनकी वजह से वे अपने जीवन और बिज़नेस में सफल हुए।

आशावादी बनें

हमेशा भविष्य के लिए आशावादी सोच होनी चाहिए।  अगर आप सकारात्मक तरीके से सोचते हैं तब आप अपने लिए लक्ष्य और अवसर पैदा कर लेते हैं। जब अन्य लोग शिकायतों में लगे होते हैं तब आप परिस्थितियों को और बेहतर बनाने की कोशिश में लग जाते हैं।  बतौर एक एंटरप्रेन्योर, आपको दूसरों से जल्दी उठना है, दूसरों से ज्यादा बहादुर होना है और सभी तरह की समस्याओं के समाधान के लिए अपने सहज ज्ञान का इस्तेमाल करना है।

बड़े सपने देखें

जैक मा ने अपने सपने को तब भी जिंदा रखा, जब उन्हें अपनी कंपनी अलीबाबा से 3 साल के लंबे समय में भी कोई कमाई नहीं हो पाई। सकारात्मक रवैये के जरिए कर्मचारियों के काम करने के सही तरीकों को बल मिलता है। वह मानते हैं कि धन के बारे में चिंता नहीं करनी चाहिए। अगर आप में कुछ बड़ा करने का सपना है और इसे हासिल करने के लिए आप काम करते हैं तो धन खुद-ब-खुद आपके पीछे आएगा। इससे फर्क नहीं पड़ता कि लक्ष्य कितना कठिन है आपके पास हमेशा वह सपना होना चाहिए जो आपने पहले दिन देखा था। वह आपको प्रेरित करेगा।

अपने पर भरोसा रखें

खुद पर विश्वास  होना सबसे ज़रूरी होता है और जिस टीम के साथ आप काम कर रहे हैं, उन्हें आप पर और आपके आइडिया पर विश्वास होना चाहिए। सबसे बड़ी संपत्ति आप के लिए आप स्वयं हैं। कठिन परिश्रम से आप अपने को सिद्ध कर सके हैं। आप तभी हारते हैं जब आप हार मान लेते हैं।

अस्वीकृति को स्वीकार करें

नकारा जाना सफलता के रास्ते का एक अनिवार्य हिस्सा है। असफलता से आपके काम पर प्रभाव नहीं पड़ना चाहिए। जैक मा को 30 नौकरियों के लिए अस्वीकार कर दिया गया था। जब उन्होंने KFC की नौकरी के लिए आवेदन किया था तब 24 आवेदकों में से केवल जैक ही अस्वीकार किये गए थे। हावर्ड ने भी 10 बार उनका आवेदन अस्वीकार किया।

परन्तु उन्होंने कभी हार नहीं मानी। वे हमेशा विश्वास करते हैं कि कभी भी हार नहीं मानो। आज कठिन है, कल और भी बदतर होगा, लेकिन परसों धूप जरूर खिलेगी।

गलतियां करें

जीवन में की गई गलतियां किसी व्यक्ति के लिए सबसे महत्वपूर्ण आमदनियां होती हैं। अगर आप गिरते भी हो तो फिर से खड़े हो जाइये। यदि आप असफल हो रहे हैं तो इसका मतलब है आप कोशिश कर रहे हैं; परंतु अगर आपने प्रयास ही नहीं किए तब आप सफलता की संभावनाओं को समझ भी नहीं पाएंगे। जैक कहते हैं; “अगर आप सफल होना चाहते हैं तो दूसरों की गलतियों से सीखें न कि उनकी सफलता की कहानियों से। सफल होने के लिए लोगों के पास कई अलग-अलग वजह हो सकती हैं किंतु ज्यादातर असफल लोगों के पीछे हमेशा कुछ मिलते-जुलते कारण होते हैं।” वे चाहते हैं कि अगर वे कभी कोई किताब लिखें तो “अलीबाबा की 1001 ग़लतियाँ” लिखना चाहेंगे।

प्रतिस्पर्धा की चिंता न करें

आप कभी भी प्रतियोगिता के बारे में चिंता न करें। बजाय इसके अपनी शक्ति को पहचाने और गलतियों से सीखे। प्रतिस्पर्धा के बिना इस दुनिया में कोई दूसरा स्थान नहीं है। आप इसे अपनी आदत बना लीजिये। कभी भी कीमतों पर प्रतिस्पर्धा न करें बल्कि सेवाओं और इनोवेशन पर प्रतिस्पर्धा करें।

लोगों को सशक्त बनाइये

सुनिश्चित करें कि आप हर किसी की मदद करेंगे। जब आपके आप-पास के लोग खुश रहेंगे, तो आपकी सफलता का स्वाद कुछ बेहतर हो जायेगा। आप युवा और गरीब लोगों की मदद करें। क्योंकि छोटे लोग बड़े बनेंगे। युवाओं के दिमाग में आप अच्छे विचारों के बीज बोएंगे, बड़े होने पर वे दुनिया को बदल देंगे। जो लोग आपके साथ काम करते हैं वे जब आगे बढ़ते हैं तब आप अपने आप सफल हो जायेंगे।

आलोचनाओं से बचें

आलोचनाओं से काम प्रभावित नहीं होना चाहिए। आलोचना से बचने का एक ही तरीका है, कुछ भी न करना। जब जैक ने अली-पे शुरू किया तब लोग उनके आइडिया से बेपरवाह  हो गए थे। उन्होंने निंदा करने वालों पर ध्यान नहीं दिया। आज अली-पे के 500 मिलियन यूसर्स हैं।

अपने लक्ष्य के लिए जुनूनी हों

जब कोई व्यक्ति सिर्फ अपने लक्ष्य को साधता है, तो वह सफलता प्राप्त करता है। अपने काम के प्रति जुनून और दृढ़ संकल्प ही सफलता का सही मंत्र है और यह आपको दूसरों से अलग करता है। जब आप अपने काम जुनून के साथ करेंगे तब समस्याएं भी मौकों की तरह लगेंगी।

यह कुछ बिंदु हैं जिसे आप अपनी जिंदगी में उतार सकते हैं। यकीन मानिए यदि इन 9 बिन्दुओं को आप अपनी जिंदगी में उतारने में सफल हो गए तो फिर कामयाब होने से आपको कोई नहीं रोक पाएगा।

आप अपनी प्रतिक्रिया नीचे कमेंट बॉक्स में दे सकते हैं और इस पोस्ट को शेयर अवश्य करें 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Loading…

0

दो बार हुई असफल, पर हार नहीं माना और अपना काम जारी रखा, आज है 7000 करोड़ की कंपनी

सड़क किनारे माँ के साथ चूड़ी बेचने वाला कैसे बना देश का एक शीर्ष IAS अफसर